दुनिया

पुतिन का नया प्लान, रिपोर्ट में दावा- यूक्रेनियों को खुलेआम फांसी देने की योजना बना रहा रूस

यूक्रेन और रूस के बीच शनिवार को 10वें दिन भी जंग जारी है. रूसी सैनिक लगातार यूक्रेन के अलग-अलग शहरों को निशाना बना रहे हैं. इस बीच रूस की योजना को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है. रूस यूक्रेन में मनोबल तोड़ने के लिए सरेआम फांसी की योजना बना रहा है. ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक लीक हुए दस्तावेज़ कथित तौर पर इस तरफ संकेत करते हैं कि रूस की फेडरल सेक्यूरिटी सर्विस ने लोगों का मनोबल तोड़ने के लिए यूक्रेन के शहरों में सरेआम फांसी देने की योजना तैयार की है.

रिपोर्ट में यह दावा किया गया है कि रूस की फेडरल सेक्यूरिटी सर्विस ने बेहद ही गंभीर और घातक योजना तैयार की है. रूस मनोबल को तोड़ने के प्रयास में यूक्रेनी शहरों में खुलेआम तौर पर यूक्रेनियों को फांसी देने की योजना को अंजाम दे सकता है.

रूस ने बनाई सरेआम फांसी देने की योजना

रिपोर्ट में दावा किया गया है कि एक गुमनाम यूरोपीय खुफिया अधिकारी के मुताबिक रूस प्रदर्शनकारियों पर नकेल कसने के लिए सरेआम फांसी की योजना को अंजाम दे सकता है. इस योजना का मुख्य मकसद यूक्रेन के लोगों के मनोबल को तोड़ना है.

रिपोर्टर किटी डोनाल्डसन ने ट्वीट किया, ‘एजेंसी हिंसक भीड़ नियंत्रण और यूक्रेन के लोगों के मनोबल को तोड़ने के लिए प्रदर्शनकारियों की दमनकारी हिरासत की भी योजना बना रही है.’ रूसी सैनिक यूक्रेन में लगातार 10वें दिन भी हमला जारी रखे हुए हैं. शुक्रवार को यूरोप के सबसे बड़े परमाणु ऊर्जा प्लांट पर हमले की खबर थी और उससे धुंआ निकलने की बात रिपोर्ट की गई थी जिसके बाद दुनिया भर में इसे लेकर चिंता बढ़ गई थी.

यूक्रेन पर रूस का लगातार हमला जारी

बता दें कि यूक्रेन के अलग-अलग शहरों को रूसी सैनिक निशाना बना रहे हैं. बड़ी बड़ी इमारतों और स्कूल बिल्डिंग पर भी हमले किए जा रहे हैं. खेरसान शहर को रूसी सैनिकों ने अपने कब्जे में ले लिया है. हालांकि कई जगह पर आक्रमणकारियों को यूक्रेन के भयंकर प्रतिरोध का सामना करना पड़ा है. यूक्रेन के अधिकारियों के मुताबिक मारियुपोल के बंदरगाह शहर पर लगातार विनाशकारी बमबारी की जा रही है. शुक्रवार को चेर्निहाइव में एक अपार्टमेंट ब्लॉक पर हवाई हमले में कई लोगों की जान चली गई थी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close