खेल जगत

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी मे पहला एकदिवसीय मैच आज

सिडनी I  भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज का पहला मुकाबला आज सिडनी में खेला जाएगा. विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम ने पिछले दौरे पर कंगारू टीम को वनडे सीरीज में 2-1 से शिकस्त दी थी. हालांकि उस समय बैन के चलते स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर ऑस्ट्रेलियाई टीम का हिस्सा नहीं थे. इन दोनों बल्लेबाजों की वापसी से मेजबान टीम काफी मजबूत दिख रही है.

दूसरी ओर टीम इंडिया को अपने ‘हिटमैन’ रोहित शर्मा की कमी खलेगी. चोटिल रोहित शर्मा की गैर मौजूदगी से बल्लेबाजी क्रम पर असर जरूर पड़ेगा. इस सीरीज से ही स्टेडियमों में दर्शकों की वापसी होगा चूंकि क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने उपलब्ध सीटों के 50 प्रतिशत तक दर्शकों को प्रवेश की अनुमति दी है. बोर्ड के अनुसार टिकट बेचे जा चुके हैं.

8 महीने के बाद अंतरराष्ट्रीय मैच खेलेगी टीम इंडिया

विराट कोहली की टीम ने आखिरी बार अंतरराष्ट्रीय मैच मार्च की शुरूआत में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था. कोरोना महामारी के कारण लंबे समय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से दूर रही टीम का सामना अब आस्ट्रेलिया जैसे धुरंधर से है जिसे उसकी धरती पर हराना कतई आसान नहीं होगा. भारतीय टीम 1992 विश्व कप की नेवी ब्लू जर्सी में नजर आयेगी.

भारतीय बल्लेबाजों का सामना सर्वश्रेष्ठ तेज आक्रमण से होने जा रहा है जबकि ऑस्ट्रेलिया के पास एडम जाम्पा के रूप में कुशल स्पिनर भी है जिसने कई बार कोहली को परेशान किया है. लय में लौटे स्टीव स्मिथ, रन मशीन डेविड वार्नर और उभरते सितारे मार्नस लाबुशेन की मौजूदगी में ऑस्ट्रेलिया को उसकी सरजमीं पर हराने के लिये भारतीयों को अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा.

केएल राहुल के लिए अग्निपरीक्षा

भारतीय एकादश में जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी दोनों शामिल हो सकते हैं या टीम प्रबंधन टेस्ट श्रृंखला को ध्यान में रखकर एक मैच में एक को ही उतार सकता है. ऐसे में शारदुल ठाकुर और नवदीप सैनी को मौका दिया जा सकता है. केएल राहुल के लिए भी यह दौरा अग्निपरीक्षा से कम नहीं होगा. उपकप्तान राहुल आईपीएल में शानदार फार्म में थे जिसे वह बरकरार रखना चाहेंगे लेकिन असल चुनौती विकेट के पीछे महेंद्र सिंह धोनी की जगह लेने की है जहां उन्हें युजवेंद्र चहल की गुगली को भांपना होगा. खुद राहुल मानते हैं कि धोनी की जगह लेना तो किसी के लिये संभव नहीं है.

हार्दिक पंड्या छठे या सातवें नंबर पर आक्रामक बल्लेबाजी में माहिर है जिससे कोहली दो स्पिनर लेकर उतर सकते हैं. चौथे नंबर पर श्रेयस अय्यर ने पिछले दौरे पर अच्छा प्रदर्शन किया था. ऑस्ट्रेलियाई मध्यक्रम के लिये चहल चिंता का सबब होंगे. वहीं भुवनेश्वर कुमार जैसे डैथ ओवरों के विशेषज्ञ गेंदबाज की गैर मौजूदगी में बुमराह पर अतिरिक्त जिम्मेदारी रहेगी.

भारत की संभावित प्लेइंग इलेवन

शिखर धवन, मयंक अग्रवाल, विराट कोहली (कप्तान), श्रेयस अय्यर, केएल राहुल (विकेटकीपर), हार्दिक पंड्या, रवींद्र जडेजा, यजुवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और नवदीप सैनी.

ऑस्ट्रेलिया की संभावित प्लेइंग इलेवन

आरोन फिंच (कप्तान), डेविड वार्नर, स्टीव स्मिथ, मार्कस लाबुशेन, मार्कस स्टोइनिस, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), ग्लेन मैक्सवैल, एडम जंपा, मिशेल स्टॉर्क, पैट कमिंस और जोश हेजलवुड.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close