राष्ट्रीय

वॉर ज़ोन कीव से आ रहे एक भारतीय छात्र को लगी गोली, वापस ले जाया गया- वीके सिंह

रूस और यूक्रेन के बीच आज युद्ध का नौवां दिन है और ये लड़ाई अब दिन पर दिन तेज होती जा रही है. अभी भी कुछ भारतीय छात्र युक्रेन की राजधानी कीव और सबसे बड़े शहर खारकीव में फंसे हैं. रूसी सेना पिछले 24 घंटों में खारकीव, चेर्नीहीव, बोरोदयांका, मारियुपोल में भारी बमबारी की है. इन हमलों में सिर्फ 24 घंटों के अंदर करीब 22 लोगों की मौत हो चुकी है. इस बीच भारत सरकार ने बताया है कि कीव में एक भारतीय छात्र को गोली लग गई, जिसके बाद उसे वापस कीव भेज दिया गया.

कीव से आ रहे एक छात्र को गोली लगी- वीके सिंह

यूक्रेन के पड़ोसी देश पोलैंड में मौजूद केंद्रीय नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जनरल (सेवानिवृत्त) वीके सिंह ने कहा है कि आज ख़बर मिली कि कीव से आ रहे एक छात्र को गोली लग गई और उसे बीच रास्ते से ही वापस कीव ले जाया गया. हम कम से कम नुकसान में ज़्यादा से ज़्यादा बच्चों को निकालने की कोशिश कर रहे हैं.

पिछले तीन दिनों में सात फ्लाइट में लगभग 1400 बच्चे वापस आए- वीके सिंह

वीके सिंह ने बताया कि अभी 1600-1700 बच्चों को भारत भेजना है. पिछले तीन दिनों में सात फ्लाइट में लगभग 1400 बच्चे गए हैं. कुछ बच्चे अपने जरिए से वॉरसॉ पहुंचे थे और उन्होंने अपने रिश्तेदारों के साथ रुकने का फैसला किया है. वह पोलैंड में सुरक्षित हैं. उन्होंने कहा कि हम कल कुल 5 फ्लाइट निकालेंगे, जिसमें हम 800-900 बच्चों को भारत भेंजेंगे. हमने बच्चों के रुकने के लिए यहां अस्थायी व्यवस्था बनाई है.

यूक्रेन से भारतीयों की वापसी का मिशन जारी

बता दें कि यूक्रेन से भारतीयों की वापसी का मिशन जारी है. आज भारतीय वायु सेना के दो C-17 विमान यूकेन में फंसे भारतीय छात्रों को लेकर रोमानिया के बुखारेस्ट और हंगरी के बुडापेस्ट से गाज़ियाबाद में स्थित हिंडन एयर बेस पहुंचे. केंद्रीय राज्य मंत्री अजय भट्ट ने आने वाले भारतीय नागरिकों का स्वागत किया. देर रात वायुसेना और एयर इंडिया के विमान से करीब 700 छात्र देश लौटे हैं. कल यानि 5 मार्च तक 15 हजार और बच्चों को निकालने का प्लान है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close