उत्तराखंड

उत्तराखण्ड चुनाव 2022 : ऐसे चेहरे व नाम का क्या करना जिसके पास मुख्यमंत्री रहने के बाद भी कोई सीट नहीं : रणजीत रावत

रामनगर : विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस प्रत्याशियों की दूसरी सूची जारी होने के बाद से ही पार्टी में हलचल तेज हो गई है। खबर आ रही है कि कई सीटों पर बगावत के चलते पार्टी हाईकमान ने दूसरी सूची के सभी 11 नामों को होल्ड कर लिया है। इनमें सबसे हाट सीट है रामनगर की। जहां से पार्टी ने पूर्व सीएम हरीश रावत को उम्मीदवार बनाया है। जबकि इसी सीट से पार्टी के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष रणजीत रावत भी दावा जता रहे थे। वहीं 28 तारीख को हरीश रावत ने इसी सीट से नामांकन करने का भी ऐलान कर दिया है। जिसके बाद से रणजीत रावत ने टिकट वितरण को लेकर हरीश रावत समेत पार्टी पर सवाल उठा दिए हैं।

कांग्रसे के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष रणजीत रावत मोतीपुर स्थित अपने घर पर जुटे समर्थकों व कार्यकर्ताओं से पूछा कि क्या खेत को उपजाऊ बनाकर फसल दूसरों को काटने दें। इसके साथ ही उन्होंने समर्थकों से कहा कि आप चुनाव लड़ने का जो भी फैसला लेंगे उसे स्वीकार करेंगे। चेतावनी देते हुए दो टूक कहा कि पार्टी को कार्रवाई करनी हो तो करे। संगठन का यह निर्णय सरासर गलत है। हरदा का नाम लिए बिना कहा कि जो व्यक्ति कहता है मुझे चेहरा बनाया जाए। मेरे काम व नाम पर वोट पड़ेगा, तो वह दूसरी जगह क्यों चुनाव नहीं लड़ते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close