उत्तराखंड

माओवादियों के सामने आ सकते हैं कई राज, कुख्यात खीम सिंह बोरा 16 मार्च तक रिमांड पर

अल्मोड़ा: 2019 में उत्तर प्रदेश के बरेली से गिरफ्तार 50 हजार के इनामी कुख्यात माओवादी खीम सिंह बोरा को शुक्रवार को अल्मोड़ा कोर्ट में पेशी के लिए लाया गया। कड़ी सुरक्षा के बीच पुलिस ने माओवादी को जिला न्यायालय में पेश किया। जिसके बाद उसे 16 मार्च तक न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। माओवदी चार सालों से लखनऊ जेल में बंद है।

मूल रूप से अल्मोड़ा जिले के सोमेश्वर क्षेत्र निवासी माओवादी खीम सिंह बोरा के विरुद्ध विभिन्न शहरों में माओवादी गतिविधियों के तहत मुकदमें दर्ज थे। सरकार ने उसकी गिरफ्तारी के लिए 50 हजार रुपये का इनाम रखा था। 17 जुलाई 2019 को बरेली में पुलिस ने माओवादी की गिरफ्तारी की थी। उसके पास पुलिस को तमंचे, कारतूस, पंप्लेट्स और अन्य सामग्री भी बरामद हुई थी। वह अल्मोड़ा, ऊधमसिंहनगर और नैनीताल जिले में भी वांछित था। उत्तर प्रदेश पुलिस ने गिरफ्तारी कर माओवादी को कोर्ट में पेश किया था। जिसके बाद से वह जेल में ही था। इधर अल्मोड़ा जिले से भी वांछित बोरा को जिला पुलिस यूपी और एटीएस के साथ अल्मोड़ा लेकर पहुंची। शुक्रवार को कड़ी सुरक्षा के बीच पुलिस ने माओवादी को जिला न्यायालय में पेश किया। कोर्ट में पेशी के बाद उसे 16 मार्च तक जिला कारागार में न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close